फाइल और फोल्डर File and Folder

फाइल और फोल्डर (File and Folder)

  • नमस्कार दोस्तों Welcome to our website :- Examsector.com में। दोस्तों इस पोस्ट की मदद से में आपको फाइल और फोल्डर File and Folder के बारे में बताऊंगा। फाइल और फोल्डर File and Folder क्या होते है। तथा फाइल और फोल्डर File and Folder किस तरह से काम करता है। तथा फाइल और फोल्डर File and Folder को किस तरह बनाया जाता है। फाइल और फोल्डर File and Folder को बनाना क्यों जरुरी है। तथा फाइल और फोल्डर File and Folder को किस प्रकार से बनाया जाता है तथा इनका use कैसे किया जाता है।
  • फाइल सेकण्डरी मैमोरी पर स्टोर डाटा का संग्रह होता है। विण्डोज में, फाइलें डाटा स्टोर करने की बुनियादी इकाई है। उपयोगकर्ता द्वारा एक फाइल या दस्तावेज को दिया गया नाम फाइल नेम होता है। फोल्डर डिजिटल फाइल सिस्टम में एक आभासी कण्टेनर है, जिसमें फाइलों और अन्य फोल्डरों के समूहों को रखा तथा आयोजित किया जाता है। एक फोल्डर के अन्दर कई सारे सब-फोल्डर बनाए जा सकते हैं।

फाइलों तथा फोल्डरों पर कार्य करना

फाइलों तथा फोल्डरों के कार्य निम्नलिखित हो सकते है।

(i) फोल्डर को खोलना (Opening the Folder)

यदि फोल्डर डेस्कटॉप पर बना है, तो उसका एक आइकन चिह्न डेस्कटॉप पर दिखाई देगा। आप उस आइकन को डबल क्लिक करके फोल्डर को खोल सकते हैं। लेकिन यदि फोल्डर डेस्कटॉप पर नहीं है अर्थात् किसी अन्य फोल्डर में है, तो उसके लिए निम्न चरणों का अनुसरण करे।

  1. डेस्कटॉप पर My Computer के आइकन को डबल क्लिक कीजिए। ऐसा करने से My Computer की विण्डो खुल जाएगी।
  2. इस विण्डो में से उस ड्राइव को चुनिए जिसमें फोल्डर स्थित है व फिर उस ड्राइव में एड्रेस के आधार पर फोल्डरों को Open करते जाइए जब तक कि उपयुक्त फोल्डर प्राप्त न हो जाए।
  3. प्राप्त फोल्डर को खोलने के लिए उस पर माउस द्वारा डबल क्लिक कीजिए। ऐसा करने से यूजर उस फोल्डर में रखी हुई फाइलों को एक्सेस कर सकता है।

(ii) डेस्कटॉप पर नया फोल्डर बनाना (Creating New Folder on Desktop)

डेस्कटॉप विण्डोज का एक विशेष फोल्डर होता है। आप इसमें एक पूरी तरह स्वतन्त्र फोल्डर बना सकते हैं। इसके लिए निम्नलिखित क्रियाएँ कीजिए।

  1. अपने डेस्कटॉप के किसी खाली स्थान पर माउस के दाएँ बटन से क्लिक कीजिए। इससे स्क्रीन पर एक पॉप-अप मेन्यू (Pop Up Menu) दिखाई देगा।
  2. इस मेन्यू में New विकल्प को क्लिक कीजिए। ऐसा करते ही इस विकल्प का कासकेडिंग मेन्यू (Cascading Menu) या सब-मेन्यू (Sub-Menu) दिखाई देगा।
  3.  इस कासकेडिंग मेन्यू में Folder विकल्प को क्लिक कीजिए। इससे एक नया फोल्डर बन जाएगा, जिसके नीचे New Folder नाम लिखा हुआ होगा।
  4. इस नाम की जगह फोल्डर का कोई भी नाम टाइप करके Enter दबाइए। इससे उसी नाम का फोल्डर बन जाएगा। इस विधि से आप डेस्कटॉप पर किसी भी नाम से फोल्डर बना सकते हैं।

(iii) किसी फाइल या फोल्डर का नाम बदलना (Renaming any File or Folder)

आप किसी भी फाइल या फोल्डर का नाम बदलकर कुछ भी रख सकते हैं, यदि उस नाम की कोई दूसरी फाइल या फोल्डर उस स्थान पर नहीं है। किसी फाइल या फोल्डर का नाम बदलने की विधि इस प्रकार है।

  1. जिस फाइल या फोल्डर का नाम आप बदलना चाहते हैं उसके आइकन, को माउस के दाएँ बटन से क्लिक कीजिए। इससे इसका एक पॉप-अप मेन्यू खुल जाएगा।
  2. इस पॉप-अप मेन्यू में Rename विकल्प को क्लिक  कीजिए। इससे उस फाइल या फोल्डर का नाम चुना हुआ दिखाई देगा।
  3. उस फाइल या फोल्डर का नया नाम टाइप कीजिए और Enter की कुंजी दबाइए। ऐसा करने से फाइल या फोल्डर का नाम बदल जाएगा और नया नाम दिखाई देने लगेगा।

(iv) किसी फाइल या फोल्डर को हटाना (Deleting any File or Folder)

आप किसी भी फाइल या फोल्डर को अपने कम्प्यूटर से हटा सकते हैं। इसकी विधि निम्न प्रकार है।

  1. उस फोल्डर को खोलिए, जिसमें वह फाइल या फोल्डर है, जिसको आप हटाना चाहते हैं।
  2.  उस फाइल या फोल्डर को क्लिक करके चुन लीजिए।
  3.  File मेन्यू में Delete आदेश दीजिए या फोल्डर की विण्डो के स्टैण्डर्ड टूल बार में Delete बटन को क्लिक कीजिए। इससे आपको एक फाइल हटाने की पुष्टि का डायलॉग बॉक्स निम्न चित्र की तरह दिया जाएगा।
  4. इस डायलॉग बॉक्स में Yes बटन को क्लिक कीजिए। इससे चुनी हुई फाइल या फोल्डर को हटा दिया जाएगा।

जब कोई फाइल या फोल्डर किसी हार्ड डिस्क से हटायी जाती है, तो वह उस फोल्डर से हटाकर रिसाइकिल बिन (Recycle Bin) नामक फोल्डर में चली जाती है। रिसाइकिल बिन से आप आवश्यकता होने पर उसे फिर से प्राप्त कर सकते हैं या सदैव के लिए हटा भी सकते हैं।

(v) फाइल या फोल्डर को मूव या कॉपी करना (Moving or Copying any File or Folder)

किसी फाइल या फोल्डर को एक फोल्डर से मूव या कॉपी करके किसी अन्य फोल्डर में ले जाने के लिए निम्नलिखित क्रियाएँ कीजिए।

  1. उस फोल्डर की विण्डो को खोल लीजिए, जिसमें वह फाइल या फोल्डर है, जिसे आप दूसरे फोल्डर में ले जाना चाहते हैं।
  2. उस फाइल या फोल्डर के आइकन को क्लिक करके चुन लीजिए।
  3. Edit पुल-डाउन मेन्यू से Cut या Copy आदेश दीजिए या टूल बार से Cut या Copy बटन को क्लिक कीजिए। ऐसा करने से चुनी हुई फाइल या फोल्डर उसके मूल (Original) फोल्डर से हटाकर अस्थायी रूप से एक अन्य क्षेत्र में रख दी जाएगी। इस क्षेत्र को क्लिपबोर्ड (Clipboard) कहा जाता है, जहाँ सभी Cut या Copy की हुई फाइल या फोल्डर को रखा जाता है।
  4.  अब उस फोल्डर को खोलिए, जहाँ आप उस फाइल या फोल्डर को ले जाना चाहते हैं।
  5. इस फोल्डर की विण्डो के Edit मेन्यू से Paste आदेश या टूल बार से Paste बटन को क्लिक कीजिए। वह फाइल या फोल्डर नए फोल्डर में दिखाई देने लगेगी।

(vi) किसी फाइल या फोल्डर का डेस्कटॉप पर शॉर्टकट बनाना (Creating a Shortcut of any File or Folder on Desktop)

इस क्रिया को सम्पन्न करने के लिए निम्नलिखित चरणों का अनुसरण किया जाता है।

  1. जिस भी फाइल या फोल्डर का शॉर्टकट बनाना है। उसे सर्वप्रथम माउस द्वारा सिलेक्ट (Select) कीजिए।
  2.  उस फाइल या फोल्डर पर राइट क्लिक करके प्राप्त पॉप अप मेन्यू से । Create Shortcut को चुनिए या उस फाइल या फोल्डर को कॉपी कीजिए और डेस्कटॉप पर Paste कर दीजिए। या उस फाइल या फोल्डर पर राइट क्लिक बटन को दबाते हुए खींचकर डेस्कटॉप पर लाइए और उसे छोड़ दीजिए।
  3. शॉर्टकट बनाने से किसी फाइल या फोल्डर का स्थान नहीं बदलता, बल्कि उसे शीघ्रता से खोलने की सुविधा मिल जाती है। यह बार-बार प्रयोग की जाने वाली फाइल या फोल्डर तक तुरन्त पहुँचने का सुविधाजनक उपाय है। किसी फाइल या फोल्डर के शॉर्टकट का आइकन उस फाइल या फोल्डर के मूल आइकन जैसा ही होता है। लेकिन इसमें बाएँ ओर नीचे की तरफ एक छोटे तीर का चिह्न भी होता है, जिससे इसे पहचाना जाता है।
  4. डेस्कटॉप के साथ-साथ यूजर किसी फोल्डर में भी शॉर्टकट बना सकता है। उसकी भी विधि यही है, जो डेस्कटॉप पर शॉर्टकट बनाने की है। इसमें अन्तर इतना है। कि फाइल या फोल्डर के आइकन को उस फोल्डर के आइकन या उसकी विण्डो तक खींचा जाता है।
  5. जब यूजर किसी शॉर्टकट को Delete करता है, तो मूल (Original) फाइल पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता। इसी तरह जब यूजर मूल फाइल को हटाते हैं, तो शॉर्टकट भी स्वतः नहीं हटता, उसे अलग से हटाना पड़ता है।

इने भी जरूर पढ़े –

Reasoning Notes And Test 

सभी राज्यों का परिचय हिंदी में।

राजस्थान सामान्य ज्ञान ( Rajasthan Gk )

Solved Previous Year Papers

History Notes In Hindi

Leave a Reply