Haryana HTET PGT exam paper 17 November 2019 Level 3

Haryana HTET PGT exam paper 17 November 2019 Level 3

Haryana HTET PGT exam paper 17 November 2019 Level 3

Haryana HTET PGT exam paper 17 November 2019 Answer Key Part – 1 बाल विकास एंव शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy) Level 3. Haryana HTET PGT exam paper 17 November 2019 Answer Key Part – 1 बाल विकास एंव शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy). HTET PGT LEVEL3 examination held on 17/11/2019 in Haryana state Answer Key.

Exam Paper: HTET PGT examination 2019
Subject: Part – 1 बाल विकास एंव शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)
Exam Date: 17/11/2019 (3 PM to 5:30 PM)
Total Question: 30

Read Also —-

Haryana HTET PGT exam paper 16/11/2019 Part – 1 बाल विकास एंव शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)

Haryana HTET PGT exam paper 16/11/2019 Part = 2nd ( Hindi And English  )


Haryana HTET PGT exam paper 17/11/2019
Part – 1 बाल विकास एंव शिक्षाशास्त्र (Child Development and Pedagogy)

1. निम्नलिखित में से कौन-सा सामूहिक अशाब्दिक बुद्धि परीक्षण नहीं है ?
(1) आर्मी बीटा परीक्षण
(2) आर्मी अल्फा परीक्षण
(3) शिकागो परीक्षण
(4) रेवेन्स प्रोग्रेसिव मैट्रिक्स

Show Answer

   Answer =    4 

2. उत्तर बाल्यावस्था का काल क्या है ?
(1) 2 से 6 वर्ष
(2) 6 से 12 वर्ष
(3) 4 से 7 वर्ष
(4) 11 से 15 वर्ष

Show Answer

   Answer =   2  

3. निम्नलिखित में से कौन-सा टेलर द्वारा प्रदत्त सृजनात्मक स्तर सिद्धान्त का चौथा स्तर है ?
(1) भावबोधक सृजनात्मक
(2) उत्पादक सृजनात्मक
(3) अभिनव सृजनात्मक
(4) आविष्कारी सृजनात्मक

Show Answer

   Answer =    3 

4. ब्रॉनफ्रेनब्रेनर के सिद्धान्त के अनुसार नियम एवं रीति रिवाज बालक के किस पारिस्थितिक तन्त्र के उदाहरण हैं ?
(1) माइक्रोतन्त्र
(2) मैक्रोतन्त्र
(3) मीसोतन्त्र
(4) एक्सोतन्त्र

Show Answer

   Answer =   3  

5. बुद्धि का एक प्रकार जो साधारणतया नर्तक, एथलीट, सर्जन इत्यादि में पाया जाता है, क्या कहलाता है ?
(1) शरीर-गतिकी बुद्धि
(2) स्थानिक बुद्धि
(3) तार्किक-गणितीय बुद्धि
(4) संगीत बुद्धि

Show Answer

   Answer =   1  

6. निम्नलिखित में कौन-सा किशोरावस्था का अन्य नाम नहीं है ?
(1) बाल्यावस्था तथा प्रौढ़ावस्था के बीच का संधिकाल
(2) समस्यात्मक अवस्था
(3) संघर्ष, तनाव तथा विरोध की अवस्था
(4) स्फूर्ति अवस्था

Show Answer

   Answer =  4   

7. निम्नलिखित में से कौन-सी गतिविधि/क्षेत्र को विद्यार्थी के सहविद्यालयी/सहशैक्षिक पक्ष के अन्तर्गत नहीं गिना जा सकता ?
(1) सामाजिक कौशल
(2) अभिवृत्ति एवं मूल्य
(3) सृजनात्मक कौशल
(4) पाठ्यचर्या विषय

Show Answer

   Answer =    2 

8. निम्न में से कौन-सा संवेगात्मक बुद्धि का तत्त्व नहीं है ?
(1) उद्यमी सामर्थ्यता
(2) आत्म-अभिप्रेरणा
(3) परानुभूति
(4) सम्बन्धों को संचालित करना

Show Answer

   Answer =   1  

9. व्यक्तित्व समायोजन की प्रत्यक्ष विधि है :
(1) शोधन
(2) प्रक्षेपण
(3) प्रतीपगमन
(4) बाधा-निराकरण

Show Answer

   Answer =  1   

10. पहली मनोवैज्ञानिक प्रयोगशाला की स्थापना किसके द्वारा की गई ?
(1) गाल्टन
(2) कैटेल
(3) पेस्टालॉजी
(4) वुन्ट

Show Answer

   Answer =    1 

11. निम्नलिखित में से कौन-सा विकल्प जीन पियाजे द्वारा प्रदत्त “मूर्त संक्रियात्मक अवस्था” की विशेषता को दर्शाता है ?
(1) बच्चों में ‘कारण-प्रभाव सम्बन्ध’ तथा ‘वस्तु के स्थायित्व’ सम्बन्धी विचार विकसित होना।
(2 ) बालक में संरक्षण के सिद्धांत को प्राप्त करना, तार्किक विचारों का प्रकट होना।
(3) बालक अपने परिवेश को सांकेतिक रूप से दर्शाना आरम्भ करता है।
(4) तार्किक विचारों के विभिन्न प्रारूप बनाने में सक्षम होना।

Show Answer

   Answer =    1 

12. संज्ञानात्मक विकास के “समाज सांस्कृतिक सिद्धान्त” को किसने प्रस्तावित किया ?
(1) जीन पियाजे
(2) लेव वाइगोत्स्की
(3) जे० एस० ब्रूनर
(4) कोहलबर्ग

Show Answer

   Answer =    4 

13. एन० डी० आई० अभिप्रेरणा सूत्र के प्रवर्तक कौन थे ?
(1) मैकडूगल
(2) हिलगार्ड
(3) ब्लैयर एवं जोन्स
(4) मैस्लो

Show Answer

   Answer =    1 

14. ‘दृष्टि से ओझल हो जाने के बाद मस्तिष्क से ओझल हो जाना’ किस विकासात्मक अवस्था की विशेषता है ?

(1) संवेदी-गामक अवस्था
(2). पूर्व संक्रियात्मक अवस्था
(3) मूर्त संक्रियात्मक अवस्था
(4) औपचारिक संक्रियात्मक अवस्था

Show Answer

   Answer =   3  

15. निम्नलिखित में से कौन-सा ‘संज्ञान’ से सम्बन्धित नहीं है?
(1) प्रत्यक्षबोध
(2) चिंतन
(3) चलना
(4) संप्रत्यय निर्धारण

Show Answer

   Answer =    1 

Pages: 1 2

Leave a Reply