Institute of Development of Mineral Resources

खनिज संसाधनों के विकास हेतु प्रयासरत संस्थान

(1) राजस्थान राज्य खान एवं खनिज लिमिटेड (RSMML Rajasthan State Mines & Mineral Limited)–

  • स्थापना-1974 (1947 में स्थापित बीकानेर जिप्सम लिमिटेड के स्थान पर)
  • मुख्यालय– उदयपुर
  • पंजीकृत कार्यालय-जयपुर

RSMML की प्रमुख गतिविधियाँ

  • अधात्विक खनिजों यथा-जिप्सम, रॉक फास्फेट, स्टील ग्रेड चूना पत्थर, ग्रीन मार्बल इत्यादि के खनन व विपणन कार्य करती है, जैसलमेर में पवन ऊर्जा से बिजली उत्पादन के कार्य में संलग्न है।
  • कम्पनी द्वारा रावला गाँव, गंगानगर में जिप्सम की एक केन्द्रीय ग्राइंडिंग इकाई स्थापित की गई है।
  • RSMML झामर कोटड़ा उदयपुर में रॉकफॉस्फेट एवं बाड़मेर, बीकानेर एवं नागौर में लिग्नाइट खनन के कार्य में संलग्न है।
  • RSMML झामरकोटड़ा में स्थित रॉक फॉस्फेट परिशोधन संयंत्र में ‘राजफोस’ नामक उर्वरक का उत्पादन व विपणन का कार्य कर रही है।
  • RSMML द्वारा जैसलमेर व नागौर में लाइमस्टोन का उत्पादन किया जा रहा है।
  • RSMML ने राजवेस्ट पॉवर लिमिटेड (रावेपॉलि) के साथ एक समझौता करके बाड़मेर लिग्नाइट कार्पोरेशन नामक कम्पनी का गठन किया जिसके द्वारा लिग्नाइट आधारित बिजली संयंत्र मादेसर (बाड़मेर) में लगाया जा रहा है। इस कम्पनी में RSMML की भागीदारी 51% व शेष 49% रावेपालि की भागीदारी है।
  • RSMML ने बडा बाग (जैसलमेर) में पवन ऊर्जा संयंत्र स्थापित किया है।
  • RSMML ने राष्ट्रीय केमिकल्स एवं फर्टिलाइजर लिमिटेड (R.C.F. Ltd.) के साथ मिलकर राजस्थान राष्ट्रीय केमिकल्स एण्ड फर्टिलाइजर्स नामक डीएपी खाद बनाने के कारखाने की स्थापना कपासन (चित्तौड़गढ़) में की है। इसमें RSMML की 49% भागीदारी है।

(2) राजस्थान राज्य खनिज विकास निगम (RSMDC Rajasthan State Mineral Development Corporation)

  • स्थापना-1979
  • उद्देश्य –राज्य के खनिज संसाधनों का तीव्र गति से वैज्ञानिक पद्धति द्वारा दोहन करना एवं खनिज विकास को प्रोत्साहन देना।
  • 20 फरवरी, 2003 को RSMDC का RSMML में विलय कर दिया गया।

(3) राजस्थान राज्य टंगस्टन विकास निगम लिमिटेड

  • स्थापना-नवम्बर. 1983 (RSMDC की सहायक कम्पना के रूप में)
  • उद्देश्य-डेगाना, नागौर एवं टंगस्टन खान को आधुनिक तकनीक से विकसित करना, नए भंडारों की खोज करना व अनुसंधान कार्यों को प्रोत्साहित करना।
  • निगम की डेगाना के निकट रेवत व सिरोही के वाल्दा में दो इकाइयाँ कार्यरत थीं लेकिन वर्तमान में निगम को बंद कर दिया है।

(4) खान एवं भू विज्ञान निदेशालय

  • खनिज निक्षेपों की सर्वे, खोज, खनन व खानों के व्यवस्थित विकास हेतु कार्यरत राज्य सरकार का एक विभाग।

(5) हिन्दुस्तान कॉपर लिमिटेड, खेतड़ी

  • स्थापना-1 नवम्बर, 1967
  • इस्पात व खान मंत्रालय भारत सरकार के अधीन स्थित एक सार्वजनिक उपक्रम

(6) हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड, उदयपुर

  • स्थापना-10 जनवरी, 1966
  • उद्देश्य-– सीसे जस्ते का खनन व शुद्धीकरण।
  • हिन्दुस्तान जिंक के 26% शेयर मैसर्स स्टरलाइट कॉपर यूनिटीज एडवेंचर लिमिटेड (वेदान्ता समूह) को बेच दिये हैं।

(7) परमाणु खनिज अन्वेषण व अनुसंधान निदेशालय एवं प्रयोगशाला-प्रतापनगर, जयपुर

  • स्थापना-27 जुलाई, 2004

Read Also= Rajasthan Gk In Hindi

Rajasthan Gk MCQ In Hindi

Leave a Reply