दमन और दीव का परिचय ( Daman aur Diu ka Parichay )

दमन और दीव का परिचय ( Daman aur Diu ka Parichay )

• राज्य – दमन और दीव
• राजधानी – दमन
• क्षेत्रफल – 112 वर्ग किमी०
• जनसंख्या – 2,43,247

  •  पुरुष – 1,50,301
  •  महिला – 92,946

• दशक वृद्धि दर (2001-11) – 53.8 प्रतिशत
• ग्रामीण जनसंख्या – 60,396
• शहरी जनसंख्या – 1,82,851
• शहरी जनसंख्या का प्रतिशत – 75.2%
• ग्रामीण जनसंख्या का प्रतिशत – 24.8%
• 0-6 वर्ष आयु वर्ग की जनसंख्या – 13.01%
• बालक – 14,144
• बालिका – 12,790
• लिंगानुपात (0-6 वर्ष) – 904
• जनसंख्या घनत्व – 2,191 व्यक्ति /वर्ग किमी.
• लिंगानुपात – 618 महिलाएँ प्रति हजार पुरुष
• साक्षरता – 87.1 प्रतिशत

  •  पुरुष – 91.5%
  • महिला – 79.5%

दमन और दीव का परिचय ( Daman aur Diu ka Parichay )

• कुल साक्षर व्यक्ति – 1,88,406

  • पुरुष साक्षर – 1,24,643
  • महिला साक्षर – 63,763

• मुख्य भाषा – गुजराती
• जिलों की संख्या – 2
• लोकसभा सदस्य – 1
• प्रथम प्रशासक – खुर्शीद आलम खान
• उच्च न्यायालय – मुम्बई उच्च न्यायालय के अंतर्गत
• प्रमुख नगर – दमन एवं द्वीव
• मुख्य आर्थिक स्रोत – मछली
• त्यौहार – होली, नवरात्रि, तथा मकर संक्रांति
• भू-आकृति – दमन, गुजरात समुद्र तट पर है, जबकि दियु काठियावाड़ प्रायद्वीप के दक्षिणी सिरे पर एक छोटा-सा द्वीप है।

• कृषि फसलें – गेहुँ, मकई, चावल, ज्वार, – बाजरा, रागी, मूंगफली, दालें, केला, पपीता, आम, नारियल आदि।

दमन और दीव से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य :- 

  • दमन और दीव तथा गोवा देश की आजादी _ बाद भी पुर्तगाल के अधीन रहे।
    • सन् 1961 में दमन और दीव तथा गोवा को पुर्तगाल के शासन से मुक्त कराया गया और भारत का अभिन्न हिस्सा बना दिया गया। यह क्षेत्र पहले गोआ, दमन और दीव का भाग था।
    • पुर्तगालियों ने 1534 में दीव पर अधिकार किया था। 1559 में उन्होंने दमन को भी अपने अधीन कर लिया।
    • 30 मई, 1987 को गोआ को पूर्ण राज्य का – दर्जा दिया गया तथा संविधान के 57वें संशोधन द्वारा दमन व दीव को गोआ से पृथक करके – एक स्वाधीन संघ शासित प्रदेश बनाया गया।

इने भी जरूर पढ़े –

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Leave A Comment For Any Doubt And Question :-

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *