Fighter Jets of India

Fighter Jets of India , भारत के प्रमुख लड़ाकू विमान

भारत के प्रमुख लड़ाकू विमान ( Fighter Jets of India )

1.सुखोई Su-30 MKI

  • भारतीय वायु सेना के लिए हिन्दुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड के लाइसेंस के अंतर्गत रूस द्वारा निर्मित लम्बी दूरी का लड़ाकू विमान है। यह एक अत्यधिक गतिशील लडाक विमान है। यह बहुत सक्रियता से अपनी गति व दिशा बदल सकता है। जो शुद्ध एयरोडाइनेमिक्स के द्वारा संभव नहीं है। इसमें दो इंजन होते हैं जो इसे अधिकतम 2 मैक की गति प्रदान कर सकते है। इसके नवीनतम संस्करणों को ग्रहह्मोस तथा निर्भय क्रूज मिसाइल से लैस किया गया है।

2.मिराज 2000

  • Dassault Mirage 2000 एक इंजन आधारित चौथी पीढ़ी का फ्रांस द्वार निर्मित मल्टी रोल युद्धक विमान है। भारतीय वायुसेना ने इसका उपयोग पाकिस्तान के खिलाफ कारगिल युद्ध व बालकोट एयर स्ट्राइक में उपयोगी किया था
  • यह क्रूज मिसाइलों को ले जाने तथा दागने में सक्षम है। यह तरल ईंधन आधार रैमजेट इंजन से युक्त है।
  • अधिकतम दूरी 300 किमी. तथा अधिकतम गति 2,333 किमी प्रति घण्टा बालाकोट में Spice-2000 उपयोगी किया गया जो इजराइल निर्मित है।

3. तेजस (LCA-Light combat Aircraft)

  • पूर्णतया स्वदेशी तकनीक से विकसित विमान जिसकी गति 2205 किमी / घण्टा है। – तेजस के लिए परियोजना 1983 में शुरू की गई जबकि इसको मंजूरी-1993 में दी गई ।
  • इसका प्रथम परीक्षण 2001 में किया गया जबकि 2003 में ताउसका नाम तेजस रखा गया। .
  • अटल बिहारी बाजपेयी ने तेजस को भारतीय वायुसेना के भविष्य का प्रतीक बताया यह चौथी पीढ़ी का विमान हैं। जिसमें डेल्टाविंग डिजाइन काम में ली गई हैं।
  • तेजस का मिग-21 के स्थान पर शामिल किया गया हैं।
  • शुरूआत में इसमें अमेरिका की जनरल इलैक्ट्रानिक्स कम्पनी द्वारा निर्मित ईजन जीई 404 तथा जीई 414 के प्रयोग की सहमति बनी लेकिन अमेरिका के इनकार करने में इस प्रयोजना को अधिक समय लगा एवं इसमें देरी होने का अन्य कारण भारत द्वारा निर्मित कावेरी /नामक इंजन का लगातार असफल होना था।
  • सितम्बर-2016 में तेजस को सेना ने शामिल कर लिया गया हैं।

4.राफेल

  • भारत में तेजस विमान के विकास में हो रही देरी तथा मिग-21 में लगातार दुर्घटना ग्रस्त होने से भारतीय सेना को राफेल की आवयश्कता महसूस हुई।
  • राफेल फ्रांस की डसाल्ट कम्पनी द्वारा निर्मित मेल्टी रोल विमान हैं।
  • राफल की गति 1.8 मैक तथा रेंज 3700 किमी.।
  • यह हवा में ईंधन भरने में सक्षम है।
  • 2016 में हुए समझौते के अनुसार फ्रांस भारत को अगले 36 महीनों में 36 विमान का विकास करके भारत का सौपगा।

वायु सेना के प्रमुख लड़ाकू विमान

  1. मिग-21,27,29 – रूस
  2. सी-180 हरक्यूलिस – अमेरिका
  3. मिराज 2000 – फ्रांस
  4. जगुआर – ब्रिटेन + फ्रांस
  5. तेजस – भारत
  6. जलसेना के प्रमुख लड़ाकू विमान
  7. मिग 26(k)
  8. सी बैरियर – ब्रिटेन

इने भी जरूर पढ़े – 

Leave a Reply