Lakshadveep ka Parichay And History

Lakshadveep ka Parichay And History ,

लक्षद्वीप का परिचय ( lakshadveep ka parichay )

• राज्य – लक्षद्वीप
• राजधानी – कवारत्ती
• क्षेत्रफल – 32 वर्ग किमी.
• जनसंख्या – 64,473

  •  पुरुष – 33,123
  •  महिला – 31,350

• जनसंख्या घनत्व  – 2,14 9 व्यक्ति प्रति वर्ग किमी०

• दशक वृद्धि (2001-11) – 6.3%
• ग्रामीण जनसंख्या – 14,141
• शहरी जनसंख्या – 50,332
• लिंगानुपात – 947 महिलाएँ हजार पुरुष
• साक्षरता – 91.8%

  •  पुरुष – 95.6%
  •  महिला – 87.9%

• भाषा – मलयालम (मिनिकॉय द्वीप में माहल भाषा बोली जाती है) • शासकीय भाषा – हिन्दी और अंग्रेजी
• जिला –  1
• द्वीपों की कुल संख्या – 36
• उच्च न्यायालय – केरल उच्च न्यायालय के अंतर्गत
• मानव बसाव वाले द्वीप – आण्ड्रोट, अमिनि, अगती, बिट्रा, चेटलाट, कटमत, कल्पेनी, कवारत्ती, किल्टन तथा मिनिकॉय

कृषि फसलें – इस प्रदेश की मुख्य उपज नारियल है द्वीपो की वनस्पति में केला, कोलोकेसिया, चोल, ब्रेडफूट, जैकफूट, जंगली बदाम शामिल है।

• उद्योग – मछली पकड़ना मुख्य उद्योग है, नारियल, जटा की कताई ओर उसके धागों का – उत्पादन यहाँ के प्रमुख उद्योग-धन्धे हैं।
• पर्यटन स्थल – द्वीप समूहों, का मुख्य आकर्षण – कवारत्ती द्वीप. अर्थात् समुद्रतल है, मिनिकॉय द्वीप, अगति द्वीप, बांगारम द्वीप, कवारत्ती द्वीप का प्रशासनिक मुख्यालय, यहाँ पर्यटन एक महत्त्वपूर्ण उद्योग के रूप में विकसित हो रहा है।
• त्यौहार – ओणम, विशु, रमजान, ईद, मुहर्रम, ईस्टर, क्रिसमस आदि !
• प्रथम प्रशासक – यू. आर. पनिकर
• लोक सभा सदस्यों की संख्या – 1

लक्षद्वीप से जुड़े महत्वपूर्ण तथ्य

  • 1956 में इस द्वीप समूह को केन्द्रशासित प्रदेश बनाया गया।
    • 1973 में लंकाद्वीप, मिनिकॉय और अमीनी द्वीप समूहों का नाम लद्वीद्वीप रखा गया।
    • लक्षद्वीप में सबसे छोटा द्वीप बिदा है।
    • कवारत्ती तथा कल्पेनी में दस्तकारी प्रशिक्षण केन्द्र है।
    • लक्षद्वीप और मिनिकॉय में सबसे छोटा राजस्व अधिकारी ‘अमीन’ कहलाता है।
    • ‘समुद्र-पुत्र’ के नाम से लक्षद्वीप जाना जाता है।

इने भी जरूर पढ़े –

Leave a Reply