Rajasthan Gk

राजस्थान में जिलेवार पर्वत/पहाड़ी/पठार/उच्च भूमियाँ

Rajsthan ke pramukh prawat pahadiya v pathar

राजस्थान में जिलेवार पर्वत/पहाड़ी/पठार/उच्च भूमियाँ । Rajsthan ke pramukh prawat pahadiya v pathar जिले पर्वत/पहाड़ी/पठार/उच्च भूमियाँ जयपुर— साँभर की पहाड़ियाँ, बैराठ की पहाड़ियाँ, बाँसखो, बाबाई, मोती डूंगरी, गढ़गणेश, चूलगिरी, झालाना डूंगरी, शील की डूंगरी। अलवर- भैराच पहाड़ी, राजगढ़ की पहाड़ियाँ। सीकर- हर्ष की पहाड़ियाँ, मालकेतु पर्वत, खण्डेला की पहाड़ियाँ, रघुनाथगढ़, नीम का थाना। झुंझुनूं— सिंघाना …

अरावली पर्वतमाला की सर्वोच्च चोटियाँ

Rajasthan Ki parmukh Parvat Chotiya

अरावली पर्वतमाला की सर्वोच्च दस चोटियाँ (शिखर) क्र.सं.  पर्वत चोटी ऊँचाई 1. गुरुशिखर (सिरोही) 1,722 मीटर 2. सेर (सिरोही) 1,597 मीटर 3. जरगा (उदयपुर) 1,431 मीटर 4. अचलगढ़ (सिरोही) 1,380 मीटर 5. रघुनाथगढ़ (सीकर) 1,055 मीटर 6. खोह (जयपुर) 920 मीटर 7. तारागढ़ (अजमेर) 873 मीटर 8. भैराच (अलवर) 792 मीटर 9. बाबाई (जयपुर) 780 …

राजस्थान का बांगर प्रदेश

Rajasthan ka bangr pradesh

राजस्थान का बांगर प्रदेश पश्चिमी रेतीले मैदान एवं अरावली पर्वतमाला के मध्य विस्तृत अर्द्धशुष्क मैदान को ‘राजस्थान बांगर’ कहते हैं, वास्तव में यह एक अर्द्ध मरूस्थलीय क्षेत्र है। राजस्थान बांगर को चार उपविभागों में बाँटा जा सकता है – (i) लूनी बेसिन (गोडवाड़ क्षेत्र) : पाली, जालौर, बाड़मेर जिले का दक्षिणी भाग एवं सिरोही जिलों …

दक्षिणी-पूर्वी पठार (हाड़ौती का पठार)

dakshini purvi pathar hadoti pathar

दक्षिणी-पूर्वी पठार (हाड़ौती का पठार) दक्षिणी-पूर्वी पठार वस्तुतः मालवा के पठार का उत्तरी-पश्चिमी भाग है जो मध्यम काली मिट्टी से बना है जहाँ कपास की फसल अच्छी होती है। चम्बल, पार्वती, काली सिंध, परवन, आहू एवं इनकी सहायक नदियाँ इस क्षेत्र में बहती हैं। (राजस्थान में सर्वाधिक नदियों वाला क्षेत्र) हाड़ौती के पठार का विस्तार …

राजस्थान के पूर्वी मैदान

Rajasthan ke poorvee maidane

राजस्थान के पूर्वी मैदान ( Rajasthan ke poorvee maidane ) राजस्थान के लगभग 23% भूभाग पर पूर्वी मैदान का विस्तार प्रतापगढ़, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, बाँसवाड़ा, टोंक, बूंदी, अजमेर, जयपुर, भरतपुर, दौसा, अलवर, धौलपुर, सवाई माधोपुर एवं करौली जिलों में है। यहाँ पर जलोढ़ एवं दोमट मिट्टी पाई जाती है। (राज्य का सबसे उपजाऊ क्षेत्र) पूर्वी मैदान …

राजस्थान का अरावली पर्वतीय प्रदेश

Rajasthan ka aravali parvatiya pradesh

Rajasthan ka aravali parvatiya pradesh | राजस्थान का अरावली पर्वतीय प्रदेश अरावली पर्वतीय प्रदेश अरावली विश्व की प्राचीनतम वलित पर्वतमाला है, जो कालान्तर में घर्षण से वर्तमान में अवशिष्ट रूप में रह गई है। इस पर्वतमाला का निर्माण आज से लगभग 60 करोड़ वर्ष पूर्व कैम्ब्रियन युग में हुआ माना जाता है। यह प्रदेश 50 सेमी. …

राजस्थान के उतर पश्चिमी रेतीला मैदान

Rajasthan ke paschimi marushtaliya pradesh

राजस्थान के भौतिक या भौगोलिक प्रदेश ( Rajasthaan ke bhautik pradesh ) राजस्थान के भौतिक प्रदेशों में सर्वप्रथम अरावली का निर्माण या उद्भव हुआ। इसके बाद क्रमशः दक्षिण-पूर्वी पठार एवं पूर्वी मैदान अस्तित्व में आए। सबसे अन्त में पश्चिमी रेतीले मैदान (थार का मरुस्थल) का निर्माण हुआ। धरातल एवं जलवायु के अंतरों के आधार पर …

राजस्थान में क्षेत्रों के प्राचीन व वर्तमान नाम

Rajasthan ke prachin nagaro ke varthman naam

राजस्थान में क्षेत्रों के प्राचीन व वर्तमान नाम ( Rajasthan ke prachin nagaro ke varthman naam ) प्राचीन स्थान वर्तमान नाम अजयमेरू  अजमेर जाबालिपुर जालोर भिन्नमाल भीनमाल श्रीपंथ बयाना गोपालपाल करौली जयनगर जयपुर सत्यपुर साचोर बैराठ विराटनगर उपकेशपट्टन ओसियाँ माध्यमिका नगरी आलौर अलवर कांठल/देवलिया प्रतापगढ़ भटनेर हनुमानगढ़ खिज्राबाद चित्तौड़गढ़ ताम्रवतीनगरी आहड़ कोठी धौलपुर मालाणी बाड़मेर श्रीमाल बाड़मेर (प्राचीन)/ भीनमाल …

राजस्थान के नगरों के उपनाम

Rajasthan ke vibhinna nagaro ke upnaam

राजस्थान के नगरों के उपनाम ( Rajasthan ke vibhinna nagaro ke upnaam ) अजमेर– राजस्थान का हृदय, भारत का मक्का, राजस्थान का केन्द्र, राजपूताने की कुंजी, ख्वाजा की नगरी जयपुर- राजस्थान का पेरिस, गुलाबी नगरी (Pink City) जालोर-  ग्रेनाइट सिटी जोधपुर- सूर्य नगरी (Sun City) जैसलमेर- मरु नगरी, स्वर्ण नगरी कोटा –  राजस्थान का कानपुर, …

राजस्थान के महत्त्वपूर्ण व्यक्तियों के उपनाम

Rajasthan ke pramukh vyaktiyon ke upnaam

राजस्थान के महत्त्वपूर्ण व्यक्तियों के उपनाम ( Rajasthan ke pramukh vyaktiyon ke upnaam ) राजस्थान के गाँधी- गोकुल भाई भट्ट (सिरोही) मारवाड़ के गाँधी- जयनारायण व्यास (जोधपुर) मेवाड़ के गाँधी— माणिक्यलाल वर्मा (उदयपुर) वागड़ के गाँधी- भोगीलाल पंड्या (डूंगरपुर) गाँधीजी के पाँचवें पुत्र- जमनालाल बजाज (सीकर) राजस्थान की मरुकोकिला- गवरी देवी (जोधपुर) राजस्थान का नेहरू- …