राजस्थान में जिलेवार पर्वत/पहाड़ी/पठार/उच्च भूमियाँ

Rajsthan ke pramukh prawat pahadiya v pathar

राजस्थान में जिलेवार पर्वत/पहाड़ी/पठार/उच्च भूमियाँ ।

Rajsthan ke pramukh prawat pahadiya v pathar

जिले पर्वत/पहाड़ी/पठार/उच्च भूमियाँ
जयपुर— साँभर की पहाड़ियाँ, बैराठ की पहाड़ियाँ, बाँसखो, बाबाई, मोती डूंगरी, गढ़गणेश, चूलगिरी, झालाना डूंगरी, शील की डूंगरी।
अलवर- भैराच पहाड़ी, राजगढ़ की पहाड़ियाँ।
सीकर- हर्ष की पहाड़ियाँ, मालकेतु पर्वत, खण्डेला की पहाड़ियाँ, रघुनाथगढ़, नीम का थाना।
झुंझुनूं— सिंघाना की पहाड़ियाँ, खेतड़ी की पहाड़ियाँ।
अजमेर— मेरवाड़ा की पहाड़ियाँ, कुकरा की पहाड़ियाँ, नाग पहाड़, टॉडगढ़ की पहाड़ियाँ।
नागौर— परबतसर की पहाड़ियाँ।
उदयपुर— जसवन्तगढ़, सायरा, गोगुन्दा, गिरवा पहाड़ियाँ, भोराट का पठार (उदयपुर-राजसमंद), लसाड़िया का पठार, भोमट का पठार।
राजसमन्द — खमनौर की पहाड़ियाँ, बिंजराल की पहाड़ियाँ, देवगढ़ की पहाड़ियाँ।
चित्तौड़गढ़— मेसा पठार।
जोधपुर— कायलाना की पहाड़ियाँ, मण्डोर की पहाड़ियाँ, देवगढ़ की पहाड़ियाँ।
जालोर- कन्यागिरि, कंचनगिरि, ऐसराणा पर्वत, डोरा पर्वत, जसवन्तपुरा की पहाड़ियाँ, भाद्राजून की पहाड़ियाँ।
सिरोही- आबू पर्वत, भाकर ।
बाड़मेर- छप्पन की पहाड़ियाँ, नाकोड़ा पर्वत।
जैसलमेर— त्रिकूट की पहाड़ी, पोकरण उच्चभूमि ।
पाली — रणकपुर की पहाड़ी।
चूरू– स्यानण की पहाड़ी।
कोटा-झालावाड़ – –  मुकंदरा की पहाड़ियाँ।
बूंदी- आडावल पर्वत।

इने भी जरूर पढ़े – 

Leave a Reply